Dark Mode
Saturday, 23 October 2021
Logo
गंदगी देख भड़के जिलाधीश,जिला अस्पताल पहुंचे कलेक्टर, सभी वार्डों का किया औचक निरीक्षण, मरीजों से लिया फीडबैक

गंदगी देख भड़के जिलाधीश,जिला अस्पताल पहुंचे कलेक्टर, सभी वार्डों का किया औचक निरीक्षण, मरीजों से लिया फीडबैक


रायगढ़. कलेक्टर भीम सिंह बुधवार को मेडिकल कालेज संबद्ध जिला चिकित्सालय के औचक निरीक्षण में पहुंचे। यहां उन्होंने अस्पताल के सभी वार्डो का निरीक्षण किया तथा सुविधाओं के संबंध में मरीजों से बात की। उन्होंने अस्पताल में मरीजों की उचित देखरेख के साथ साफ-सफाई, स्वच्छ पेयजल, डाईट के अनुसार खानपान व दवाईयों की पर्याप्त उपलब्धता पर विशेष ध्यान रखने के निर्देश दिए। निरीक्षण के दौरान कलेक्टर ने अस्पताल भवन के क्षतिग्रस्त हिस्सों का भी अवलोकन किया। उन्होंने मेडिकल कालेज के विभिन्न वार्डों तथा विभागों को नए भवन के साथ एमसीएच अस्पताल तथा महात्मा गांधी नेत्र चिकित्सालय में जल्द शिफ्ट करने के निर्देश दिए।
कलेक्टर बुधवार को किरोड़ीमल शासकीय जिला चिकित्सालय के निरीक्षण में पहुंचे। कलेक्टर ने अस्पताल के विभिन्न वार्डों में जाकर वहां भर्ती मरीज व उनके परिजनों से चर्चा की। उन्होंने प्रसुति वार्ड का निरीक्षण किया। यहां कुछ बेड पर बेडशीट नहीं होने तथा बेडशीट गंदे होने पर उन्होंने नाराजगी जताई। उन्होंने इंचार्ज नर्स को तत्काल सारे बेडशीट धुलवाने व वार्ड में बेड के अनुसार प्रतिदिन के लिए बेडशीट स्टॉक में रखवाने के निर्देश अधीक्षक को दिए। साथ ही मरीजों को तकिया भी उपलब्ध कराने के लिए निर्देशित किया। कलेक्टर ने जनरल वार्ड का निरीक्षण किया। यहां उन्होंने शौचालय की नियमित दिन में तीन से चार दफे साफ-सफाई करवाने के निर्देश दिए।
उन्होंने ओपीडी काउंटर का निरीक्षण किया और प्रतिदिन आने वाले मरीजों की जानकारी ली। कलेक्टर ने इसके पश्चात दवा वितरण काउंटर का निरीक्षण किया। यहां उन्होंने दवाईयों के स्टॉक तथा वितरण की जानकारी ली। वर्तमान में मौसमी बीमारियों को देखते हुए सभी आवश्यक दवाएं स्टॉक में रखने के निर्देश दिए। जिससे मरीजों को दवाई खरीदने बाहर न जाना पड़े। उन्होंने सहायता केन्द्र द्वारा अस्पताल में मरीजों तथा उनके परिजनों को उपलब्ध करवायी जा रही सुविधा के बारे में भी जानकारी ली।
सोनोग्राफी टेस्ट की बढ़ाये संख्या
कलेक्टर ने अस्पताल में रेडियोलॉजी विभाग का निरीक्षण किया। उन्होंने यहां प्रतिदिन किए जाने वाले सोनोग्राफी टेस्ट की जानकारी ली तथा पंजी का अवलोकन किया। डॉक्टरों ने बताया कि अभी औसतन 25 टेस्ट प्रतिदिन किए जा रहे है। कलेक्टर ने कहा कि प्रतिदिन होने वाले टेस्ट की संख्या बढ़ाये जिससे मरीजों को लम्बा इंतजार ना करना पड़े। दवाईयां व संसाधन की व्यवस्था भी जल्द करने के निर्देश दिए।

Comment / Reply From

Share on